रुपया 13 पैसे उछाल के साथ 68.83 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ.

मुंबई: कच्चे तेल के दाम घटने और घरेलू शेयर बाजार में विदेशी निवेशकों की सतत लिवाली के बीच बुधवार को रुपया 13 पैसे उछाल के साथ 68.83 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ. जबकि, बुधवार को फेडरल ओपन मार्केट कमेटी (एओएमसी) की बैठक के निर्णय आने से पहले बाजार में सतर्कता का रुख देखने को मिला. इससे स्थानीय मुद्रा पर दबाव बना रहा.

बाजार सूत्रों ने कहा कि बाजार में ब्रोकरों और विदेशी निधियों ने 'डेट एंड इक्विटी' बाजार में निवेश किया, जिससे रुपये में सुधार को मदद मिली है. जबकि, विदेशों में डॉलर की मजबूती ने यहां लाभ को कुछ सीमित कर दिया. अतंरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपये की विनिमय दर 69.11 घाटे के साथ खुली और कारोबार के दौरान यह दिन के उच्चतम स्तर 68.72 तक मजबूत होने के बाद अंत में पिछले बंद भाव के मुकाबले 13 पैसे की तेजी के साथ 68.83 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ. इससे पहले मंगलवार को रुपया 43 पैसे की कमजोरी के साथ 68.96 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.