जून तिमाही में रिलायंस इंडस्ट्रीज का मुनाफा 7% बढ़कर 10104 करोड़ हो गया।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अप्रैल-जून तिमाही में 10,104 करोड़ रुपये का लाभ दर्ज किया। यह पिछले साल के मुनाफे से 6.8% अधिक है। उस समय, रुपये का लाभ Rs.9459 करोड़ था।

डिजिटल सेवाओं में 55% राजस्व वृद्धि राजस्व पर उद्योग की निर्भरता बढ़कर 1,72,956 करोड़ रुपये हो गई है। यह पिछले वर्ष की पिछली तिमाही में 1,41,499 करोड़ रुपये की आय से 22.1% अधिक है। इस साल जनवरी-मार्च तिमाही से राजस्व 12.2% बढ़ा। डिजिटल व्यापार विकास और खुदरा व्यापार ने 55% डिजिटल सेवा राजस्व और 48% की खुदरा व्यापार में वृद्धि हुई है |

रिफाइनरी का सकल मार्जिन घटकर 8.1 डॉलर प्रति बैरल रह गया। 

तिमाही जीआरएम (डॉलर/बैरल)
अप्रैल-जून 2019 8.1
जनवरी-मार्च 2019     8.2
अप्रैल-जून 2018 10.5

दूरसंचार व्यवसाय का लाभ 45.6% बढ़कर 891 दस मिलियन रुपये हो गया। पिछले साल जून तिमाही में Rs.612 करोड़ का लाभ देखा गया था। इस वर्ष की जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान प्रत्येक तिमाही में लाभ 6.1% बढ़ा। लाभ 840 करोड़ रुपये है।