ऑनलाइन शॉपिंग में नकली उत्पादों पर हाई कोर्ट सख्त

नई दिल्ली । वेबसाइट के माध्यम से ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर नकली सामान की बिक्री पर दिल्ली हाई कोर्ट ने सख्त रुख अपनाया है। कोर्ट ने सभी ई-कॉमर्स कंपनियों को निर्देश देते हुए यह सुनिश्चित करने को कहा है कि उनकी वेबसाइट पर जो सामान उपलब्ध हैं, वह नकली नहीं हैं। न्यायमूर्ति प्रतिभा एम सिंह ने कहा कि अगर विक्रेता कंपनी विदेश में है और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म मालिक नकली उत्पादों की जांच के लिए कोई कदम नहीं उठाता तो फिर ट्रेड मार्क मालिक पर इसकी जिम्मेदारी नहीं डाली जा सकती और उसे कानूनी उपचार पाने से वंचित नहीं रखा जा सकता। महिलाओं के लिए एक लग्जरी फुटवियर ब्रांड की तरफ से दायर याचिका पर पीठ ने सख्त रुख अपनाते हुए सभी ई-कॉमर्स कंपनियों को उक्त आदेश दिए।

याचिकाकर्ता कंपनी ने आरोप लगाया है कि भारत की एक ई-कॉमर्स वेबसाइट पर उनके ब्रांड का नकली सामान बेचा जा रहा है। वेबसाइट पर उनके ब्रांड की तस्वीरों का इस्तेमाल किया जा रहा है ताकि ग्राहकों को लुभाया जा सके। हाई कोर्ट ने वेबसाइट को नोटिस जारी कर अब तक बिके सामानों की जानकारी देने को कहा है। वेबसाइट को यह आदेश भी दिया गया कि याची की कंपनी के उत्पादों की फोटो व अन्य सामग्री तुरंत वेबसाइट से हटाए। पीठ ने कहा अगर विक्रेता भारत का नहीं है तो फिर उक्त कंपनी के साथ ई-कॉमर्स वेबसाइट मालिक एक अनुबंध करे कि किन शर्तो पर अनुबंध किया जा रहा है।